उत्तर प्रदेश में आम जनता से लेकर पत्रकार तक कोई सुरक्षित नहीं है। ताजा मामला कुशीनगर का है जहाँ बेखौफ बदमाशों ने 55 साल के पत्रकार राधेश्याम शर्मा की गला रेतकर कर हत्या कर दी। ये हमला उनपर तब हुआ जब वो अपनी बाइक से कहीं जा रही थे तभी अचानक बदमाशों ने उन्हें बीच रास्ते में रोककर इस घटना को अंजाम दिया।

दरअसल मामला कुशीनगर जिले के हाटा कोतवाली के दुबौली गांव का है। जहाँ दैनिक ‘आज’ अखबार में पत्रकार राधेश्याम शर्मा काम करते थे। मगर गुरुवार की सुबह जब गांववाले खेत से गुजरे तो उन्होंने देखा कि पत्रकार की लाश पड़ी हुई है। ग्रामीणों ने इस बात की जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस और फॉरेंसिक विभाग की टीम मौके पर पहुंची। फॉरेंसिक विभाग की टीम ने घटना स्थल का निरीक्षण कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

एक निजी स्कूल के शिक्षक भी रहे शर्मा अपनी मोटरसाइकिल से जा रहे थे, तभी उन्हें रास्ते में रोककर इस वारदात को अंजाम दिया गया। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इस पूरे मामले की जांच की जा रही है।

बता दें कि, इससे पहले उत्तर प्रदेश में बीते अगस्त महीने में अगस्त सहारनपुर जिले में दिनदहाड़े राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक अखबार में काम करने वाले पत्रकार आशीष (23) और उसके भाई आशुतोष (19) की उनके पड़ोसी महिपाल सैनी ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। हत्या की वजह ये थी कि महिपाल और आशीष के बीच गोबर फेंकने को लेकर विवाद था।