उत्तर प्रदेश पुलिस का इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला रवैया सामने आया है। यहां पुलिस ने पत्नी से गैंगरेप की शिकायत करने पहुंचे दलित पति को इस कदर पीटा कि उसकी दो उंगलियां टूट गईं।

मामला मैनपुरी के कुरावली थाना क्षेत्र के एनएच 91 का है। पति ने बताया कि जब वह अपनी पत्नी के साथ मोटरसाइकिल से अपने रिश्तेदारों से मिलने के लिए जा रहा था, तभी कार सवार तीन बदमाशों ने मोटरसाइकिल रुकवा दी। बदमाशों ने पति की आंखों में स्प्रे डाला और पत्नी को अपने साथ लेकर चले गए।

आरोप है कि महिला के साथ गैंगरेप किया गया और जब पति मदद के लिए पुलिस के पास पहुंचा तो पुलिस ने शिकायत को ‘मनगढ़ंत कहानी’ बताते हुए उसको बुरी तरह से पीटा। मारपीट के दौरान पुलिस ने महिला के पति के हाथ की दो भी उंगलियां तोड़ दीं।

बाद में महिला पांच घंटे बाद पुलिस थाने पहुंची और बताया कि अपहरणकर्ताओं ने उनके साथ रेप किया और उसके ज़ेवर लूटने के बाद उन्हें पड़ोस के एटा ज़िले में छोड़ दिया।

मैनपुरी के पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय के मुताबिक़ शिकायतकर्ता की पीठ और पैरों में चोटें आई हैं। इस मामले में कार्रवाई करते हुए बिछवासन पुलिस थाने के प्रभारी और दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है।