अब उन्नाव मामले में योगी सरकार में कृषि राज्य मंत्री रणवेंद्र सिंह के दामाद का नाम जुड़ गया है। यूपी पुलिस ने इस मामले में जिन 25 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है इनमें 9 लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है। आरोपियों में अरुण सिंह का नाम भी है, जो मंत्री के दामाद हैं और नवाबगंज से ब्लॉक प्रमुख हैं।

दरअसल रविवार को हुए रायबरेली हाईवे पर हुए उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के एक्सीडेंट के मामले में कुलदीप सिंह सेंगर समेत 25 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। दर्ज एफआईआर में कुलदीप सिंह सेंगर, मनोज सिंह सेंगर, विनोद मिश्रा, हरिपाल सिंह, नवीन सिंह, कोमल सिंह, अरुण सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, रिंकू सिंह, वकील अवधेश सिंह को आरोपी बनाया गया है। इसमें हरिपाल सिंह और रिंकू सिंह रेप केस में आरोपी शशि सिंह के पति और बेटे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कोमल सिंह विधायक के भाई मनोज सिंह के दोस्त हैं। नवीन सिंह विधायक के राइट हैंड कहे जाते हैं। ज्ञानेंद्र सिंह पत्रकार हैं और कुलदीप के खास दोस्तों में से हैं। वकील अवधेश सिंह कुलदीप के मामलों की पैरवी करते हैं। इसके अलावा 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब हो कि सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर में बांगरमऊ सीट से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर उनके भाई मनोज समेत 25 लोगों पर हत्या, हत्या का प्रयास, आपराधिक साजिश की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। सीबीआई लखनऊ के एंटी करप्शन ब्रांच (ACB) ने यह एफआईआर दर्ज की है।

बता दें कि बीते रविवार को पीड़िता की कार को एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी, जिसमें उसकी चाची और मौसी की मौत हो गई थी और पीड़िता और उसके वकील गंभीर रूप से घायल हैं। जिस ट्रक से टक्कर मारी गई है उसकी नंबर प्लेट काले रंग से पेंट कर दी गई थी। ताकि ट्रक को कोई जल्दी से पहचान ना पाए। आरोपी विधायक अभी तक बीजेपी में है।