‘बादल’ वाले बयान पर अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पीएम मोदी पर पलटवार किया है। प्रियंका ने मध्यप्रदेश में रोड-शो के दौरान कहा कि जुमला ही बोलता रहा पांच साल की सरकार में, सोचा था क्लाउडी है मौसम, नहीं आऊंगा रडार में। इससे पहले पीएम मोदी ने कहा था कि बालाकोट स्ट्राइक में हमें बादलों से फायदा मिला है।

दरअसल पिछले दिनों पीएम मोदी ने एक टीवी इंटरव्यू में कहा था कि बालाकोट एयरस्ट्राइक के दौरान मौसम एकाएक खराब हो गया था। आसमान में बादल छाए थे। भारी बारिश हो रही थी। विशेषज्ञों के मन में उस समय मौसम को लेकर शंका थी।

बंगालः गुजरात से आए BJP कार्यकर्ताओं को पुलिस ने होटल से निकाला, हथियार-कैश मिलने का था अंदेशा

वे सोच रहे थे कि क्या बादलों के रहते हम ऐसा कर सकते हैं? कुछ विशेषज्ञों ने कहा कि यदि हम तारीख बदल दें तो। मगर मेरे दिमाग में दो बातें थीं। एक इस बात का गुप्त रहना।

दूसरा मैंने विशेषज्ञों से कहा कि मैं कोई ऐसा व्यक्ति नहीं हूं जो विज्ञान का जानकार है। मैंने कहा कि वहां बादल छाए हैं, भारी बारिश भी हो रही है। मगर यह फायदेमंद भी है। मेरी एक कच्ची सोच है कि बादल हमें फायदा भी दे सकते हैं, हम रडार से बच सकते हैं। हर कोई गफलत में पड़ गया। आखिरकार मैंने कहा कि चलिए करते हैं।

भ्रष्टाचार खत्म करने का दावा करने वाले राफेल पर चुप रहते है

प्रियंका ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी कहते थे कि भ्रष्टाचार खत्म करेंगे। फिर 30,000 करोड़ रुपये का राफेल घोटाला किसने कराया? कांग्रेस महासचिव ने नुक्कड़ सभा में कहा कि वह इतने बडे़ रक्षा विशेषज्ञ हैं कि उन्होंने खुद तय कर लिया कि एक ऐसी कम्पनी जंगी जहाज बनायेगी जिसने इस तरह के विमान आज तक नहीं बनाये हैं।

इस कम्पनी को जमीन दे दी गयी और ठेका भी दे दिया गया। सरकारी कम्पनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएल) से ये विमान नहीं बनवाये गये।