उत्तर प्रदेश में अपराधियों का मनोबल बढ़ता जा रहा है। दिल्ली, झारखंड और बिहार के बाद अब यूपी के कानपुर में एक मुस्लिम युवक की जय श्रीराम ना बोलने पर बेरहमी से पिटाई की गई। इतना ही नहीं पहले उसके सिर पर ईंट से कई बार हमला किया और फिर युवक को मरने के हालत में छोड़कर वहां से गायब हो गए।

दरअसल कानपुर में आतिब नाम के ऑटो चालक बुधवार शाम रात नौ बजे अपने घर जा रहा था। तभी अचानक बाकरगंज चौराहे पर खटिकाना मोहल्ला निवासी सुमित, राजेश और शिवा ऑटो में बैठ गए और चारराड चौराहे तक छोड़ने को कहा। इसके बाद जब तीनों सवारी चारराड चौराहे ले जाने के बजाय ऑटो चालक आतिब को खटिकाना ले गए।

जहां तीनों ने पहले तो पैसे ना होने की बात कही फिर ऑटो चालक से बदतमीजी करने लगे। इसके बाद उसे जय श्रीराम के नारे लगाने को कहा और उसे इस नारे को बोलने के लिए मजबूर करने लगे। जिसका विरोध जब आतिब ने किया तो पहले पीटा फिर उसके बाद शौचालय में बंधक बना दिया।

इसके बाद तीनों गुंडों ने ऑटो चालक आतिब के सिर पर पत्थर से हमला किया जिससे वो जख्मी हो गया। जब आतिब चीखने चिल्लाने लगा, तो उसे मरने की हालत में छोड़कर तीनों आरोपी वहां से भाग निकले।

इस मामले की जानकारी जैसे ही पुलिस को हुई वो घटनास्थल पर पहुंची जिसके बाद युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया। युवक की पिटाई से नाराज़ लोगों ने देर रात हंगामा किया जिसके बाद एसएसपी खुद अनंत देव ने मुस्लिम युवक के घरवालों से बातचीत की और गुस्साए हुए लोगों को शांत होने के लिए कहा।

ऑटो चालक के घरवालों का कहना था कि हमला करने वाले तीनों आरोपियों की गिरफ़्तारी जल्द से जल्द हो। जिसपर एसएसपी ने उन्हें कार्रवाई का आश्वासन दिया। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए जांच शुरू कर दी है।

बता दें कि इससे पहले झारखंड में एक मुस्लिम युवक की भी ऐसे ही चोरी इल्जाम में बेरहमी से पीटा गया था। जिसके बाद उससे भी ऐसे जय श्रीराम के नारे लगवाने के लिए कहा गया था और रातभर पीटने के बाद उसे मरने की हालत में पुलिस के हवाले कर दिया गया था. जहां उसकी दो दिन बाद मौत हो गई थी।