आजाद भारत में ‘जयश्रीराम’ का नारा ना लगाना अब मंहगा पड़ रहा है। ताजा मामला वाराणसी से सटे चंदौली का है जहां 17 साल के मुस्लिम युवक खलील को जिंदा जलाने की कोशिश की गई। पीड़ित ने आरोप लगाया कि उसे जय श्री राम न बोलने की सजा दी गई है। ये बयान युवक ने वाराणसी के अस्पताल में कैमरे पर दिया है।

दरअसल सैयदराजा इलाके में रहने वाला पीड़ित युवक खलील अंसारी (17) अपने चार दोस्तों के साथ रविवार सुबह घर से घूमने के लिए निकला था। उसने बताया कि इस बीच वहां से 4 लोगों ने मुझे अगवा कर लिया। फिर उनमें से दो लोगों ने मेरे हाथ पकड़ लिए और उन्होंने मुंह ढक रखा था।

एक बोला सुनील इस पर मिट्टी का तेल छिड़क दो। माचिस लगा दो, खुद-ब-खुद मर जाएगा। जिसके बाद मिट्टी का तेल छिड़क कर और माचिस जलाकर वे लोग भाग गए। उन लोगों ने हमला क्यों किया? इसपर खालिद ने जवाब दिया कि उसने जय श्री राम का नारा लगाने से इनकार कर दिया था।

इस मामले पर पुलिस का कहना है कि किशोर जली हुई अवस्था में घर पहुंचा। जिसके बाद पुलिस वहां पहुंची। मनराज पुर गांव में कुछ लड़के थे, जिन्होंने उसे दौड़ते समय खेत में ले गए और आग लगा दी। पुलिस इस पूरे मामले को संदिग्ध मान रही है।

फिलहाल खालिद की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। घायल किशोर को कबीर चौरा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। किशोर 60 फीसदी जल गया है। अभी भी उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

सैयदराजा थाना प्रभारी एस.पी.सिंह ने बताया कि झुलसे युवक ने घटनास्‍थल के बारे में कई बार बयान बदला। छानबीन के दौरान जिस जगह घटना होनी बताई गई, वहां से काफी दूर एक मजार के पास खलील के कपड़े और चप्पल बरामद हुए।

अधिकारियों ने कहा कि इससे लगता है कि मजार पर तंत्र-मंत्र के चक्‍कर में आग लगने से युवक झुलसा, लेकिन गांव के पुराने विवाद को लेकर मामले को दूसरा रूप देने के लिए उसने चार युवकों द्वारा जलाए जाने का बयान दिया है। पुलिस का कहना है कि जिन लोगों पर उसने जलाने का आरोप लगाया है वह सभी अपने घरों पर मिले हैं, ऐसे में फिलहाल इस मामले की गहन जांच की जा रही है।

बता दे कि पिछले ही दिनों 49 हस्तियों ने जय श्री राम के नारे को लेकर हो रही लिंचिंग पर प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा था। अब ऐसे लिंचिंग पर सवाल उठाने वालों का वो शक सच में बदलता जा रहा है जिसमें कहा गया था कि जय श्री राम का नारा अब हत्या करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।