भले ही दिल्ली विधानसभा चुनाव अभी दूर हो। मगर अभी से ही धार्मिक मामलों को उठाकर दिल्ली की सियासत में फायदा उठाने की कोशिश शुरू हो गई है। इसी सिलसिले में पश्चिम दिल्ली से BJP सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा ने अपने संसदीय क्षेत्र सहित शहर के कई भागों में सरकारी जमीन और सड़कों पर बढ़ती मस्जिदों पर दिल्ली के LG को खत लिखा है।

BJP सांसद दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखते हुए कहा कि मैं पूरी दिल्ली लेकिन खासकर मेरे संसदीय क्षेत्र (पश्चिम दिल्ली) के कुछ खास भागों में सरकारी जमीन, सड़कों तथा एकांत स्थानों पर मस्जिदों के तेजी से बढने के एक खास तरीके के रुख से अवगत कराना चाहता हूं।

उन्होंने पत्र में ये भी लिखा कि मस्जिदों से न केवल यातायात ‘प्रभावित’ होता है बल्कि आम लोगों को ‘असुविधा’ भी होती है। उन्होंने पत्र में उम्मीद जताई कि इस मामले को ‘गंभीरता’ से लिया जायेगा और उपराज्यपाल के कार्यालय द्वारा ‘तत्काल कार्रवाई’ सुनिश्चित की जायेगी।

ये पहली बार नहीं है जब BJP सांसद ने धार्मिक मुद्दा उठाया है। इससे पहले उन्होंने राम मंदिर का मुद्दा उठाते हुए कहा था कि ना हमें वोट किया है ना करेंगे एक सिम्पल सी बात है देश में हर आतंकवादी मुस्लिम क्यों होता है और मुस्लिम BJP को वोट क्यों नहीं करता इसलिए बीजेपी एक राष्ट्रभक्त पार्टी है इसलिए मुस्लिम उसको वोट नहीं करता हमें किसी समुदाय की चिंता नहीं है हम राम मंदिर बनाकर रहेंगे।

गौरतलब हो कि प्रधानमंत्री मोदी ने लोकसभा चुनाव जीतने के बाद ‘सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास’ जीतने की बात कही थी। मगर बीजेपी सांसद की शिकायत देख ये लगता तो नहीं है उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की बात समझी भी है की नहीं।