गुजरात में BJP विधायक बलराम थवानी की बदसलूकी का शिकार हुई महिला ने बीजेपी सरकार पर सवाल उठाए हैं। महिला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल करते हुए कहा कि वह बताएं कि बीजेपी की सरकार में महिलाएं कितनी सुरक्षित हैं?

एनसीपी से जुड़ी पीड़ित महिला ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “मैं स्थानीय मुद्दों को लेकर BJP विधायक बलराम थवानी से मिलने गई थी। लेकिन उन्होंने मेरी बात सुनने से पहले मुझे थप्पड़ मारे, जब मैं गिर गई तो उन्होंने मुझे लात मारी। उनके लोगों ने मेरे पति की पिटाई की है। मैं मोदी जी से पूछती हूं कि बीजेपी की हुकूमत में महिलाएं कितनी सुरक्षित हैं?”

बेरोज़गारी ने 45 साल का रिकार्ड तोड़ा मगर इससे ना सरकार को कुछ फर्क पड़ता है ना बेरोजगार को : रवीश

बता दें कि एक दिन पहले BJP विधायक बलराम थवानी का एक वीडियो सामने आया था। जिसमें वह सरेआम बीच सड़क पर एक महिला की लात-घूंसों से पिटाई करते नज़र आ रहे थे। दरअसल, मामला पानी की पाइपलाइन को लेकर था, जिसकी शिकायत लेकर महिला अहमदाबाद की नरोदा विधानसभा सीट से विधायक थवानी के पास गई थी।

लेकिन जनता के प्रतिनिधि उनकी शिकायतों का कैसे निपटारा करते हैं। ये वीडियो में देखा जा सकता है। महिला की शिकायत सुनने के बजाए विधायक महिला के साथ मारपीट शुरु कर दी। महिला को सड़क पर गिराकर पहले विधायक के आदमी ने थप्पड़ मारे, फिर खुद विधायक ने लात मारी। इस दौरान महिला चीखती-चिल्लाती रही, लेकिन उसे बचाने के लिए कोई आगे नहीं बढ़ा।

हत्या-वसूली के मामले में आरोपी और तड़ीपार रहा शख्स अब देश का गृहमंत्री बन गया है, देश बदल रहा है?

हालांकि वीडिया सामने आने के बाद जब विधायक को चौतरफा आलोचना का सामना करना पड़ा तो उसने माफी मांग ली। विधायक ने कहा, “मुझसे गलती हुई है, इसके लिए मैं माफी मांगता हूं”। थवानी ने कहा, “मैं 22 साल से राजनीति में हूं, पहले कभी ऐसा नहीं हुआ और ये मारपीट जानबूझकर नहीं की गई। थवानी ने कहा कि मैं महिला से अपनी गलती जाहिर करूंगा और माफी मांगूंगा”।