• 457
    Shares

इस बार के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी भले ही हिंदू-मुस्लिम की बात करने लगे हो। मगर पिछले चुनाव में कही बातें BJP का पीछा नहीं छोड़ रही है। जिनमें एक है 15 लाख रुपये सभी गरीबों के खातें में डालने का।

जिसे लेकर अब सोशल मीडिया पर लोगों ने ट्रेंड #My15LakhStory पर लिखना शुरू कर दिया जिसके निशाने पर सीधे पीएम मोदी और BJP थी।

दरअसल साल 2014 लोकसभा चुनाव के प्रचार में जुटे पीएम मोदी ने कहा था कि हमारा चोरी किया हुआ पैसा वापस आना चाहिए या नहीं? क्या कालाधन वापस नहीं आना चाहिए? चोर-लुटेरों से एक-एक रुपया वापस लेना चाहिए या नहीं?

इन रुपयों पर जनता का अधिकार है या नहीं? ये रुपया जनता के काम नहीं आना चाहिए या नहीं? ये जो चोर-लुटेरों के पैसे विदेशी बैंकों में जमा हैं ना, वो अगर ले आए तो देश के गरीब आदमी को मुफ्त में 15-20 लाख रुपए यूं ही मिल जाएंगे।

अब मोदी सरकार का कार्यकाल ख़त्म होने को है चुनाव प्रचार में 15 लाख की बात ज़िक्र अब भूले से बीजेपी का कोई नेता नहीं कर रहा है। इसे लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर मोदी सरकार की खिचाई की।

सोशल मीडिया पर एक यूज़र ने दुबई के पाम बीच की तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा- ये सब मेरा है धन्यवाद मोदी

पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी ने लिखा- मैंने अपना 15 लाख अमित शाह को दे दिया।

एक और यूजर ने लिखा- आपके दिए हुए 15 लाख से मैंने ये घर बनाया है. जय हो मोदी, हर हर मोदी

बता दें कि पीएम मोदी के 15 लाख देने वाले वादे के तर्ज पर ही कांग्रेस ने देश के 20 प्रतिशत गरीबों के खतों में हर महीने 6000 रु देने का वादा किया। अब तो राहुल गांधी भी हर रैली में कहते हुए नज़र आ रहें है की ये चुनाव 15 लाख झूठ बनाम 72000 रु सालाना देने का सच का है।