• 33.8K
    Shares

लालू प्रसाद की हत्या की साजिश का खुलासा.

अब चूंकि सीबीआई के चीफ आलोक वर्मा, IPS, खुद शपथपत्र के साथ सुप्रीम कोर्ट में कह चुके हैं कि सीबीआई का अस्थाना, प्रधानमंत्री कार्यालय और बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी लालू प्रसाद और उनके परिवार को कथित IRCTC टेंडर मामले में फंसाने के लिए काम कर रह थे.

तो मेरी मांग है कि पुलिस को अस्थाना, नरेंद्र मोदी और सुशील मोदी के खिलाफ लालू प्रसाद की हत्या का मुकदमा दर्ज करना चाहिए.

चारा घोटाले में CM लालू को सजा देने वाली CBI सृजन घोटाले में CM नीतीश पर केस भी नहीं करती

ये लोग मिलकर लालू प्रसाद यादव को जेल में मार देना चाहते थे, क्योंकि ये जानते थे कि लालू प्रसाद काफी बीमार हैं और जेल में उनकी देखभाल नहीं हो पाएगी.

ये तीनों काफी हद तक सफल भी रहे हैं. लालू प्रसाद की तबीयत इस समय काफी खराब है.

अगर इन तीनों पर ये केस अभी दर्ज नहीं होता है तो बिहार की या केंद्र की अगली सरकार को ये काम जरूर करना चाहिए.

कथित IRCTC घोटाले में बड़ा खुलासा : PMO के इशारे पर ‘लालू और तेजस्वी’ को फंसाया जा रहा था

वहीँ तेजस्वी यादव लगातार अपने और अपने परिवार के ऊपर भाजपा के द्वारा साजिश-शन फसाने का आरोप लगाते रहे हैं। तेजस्वी यादव ने कहा कि, “हम लगातार कह रहे थे कि नीतीश कुमार बीजेपी के साथ मिलकर घिनौना षड़यंत्र रच रहे हैं। अब उनकी नंगई उजागर हो गई है।”

अब सीबीआई के डायरेक्टर ने ही सच बोल दिया है अब कुटिल कुमार क्या कहेंगे? अब तेजस्वी के नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर सीधे आरोप लगाने के बाद आईआरसीटीसी घोटाले में दिलचस्प मोड़ आ गया है।

  • दिलीप मंडल