अयोध्या मामले को लेकर कथित मेनस्ट्रीम मीडिया द्वारा की जा रही भड़काऊ रिपोर्टिंग के बीच ट्विटर पर गुरुवार को अचानक #NoidaFilmCityExcavation ट्रेंड (Twitter Trends) करने लगा। इस ट्रेंड के ज़रिए मांग की जा रही है कि नोएडा फिल्म सिटी (जहां ज़्यादातर मीडिया हाउस और उनके हेड ऑफिस हैं) को तोड़कर भगवान हनुमान के भव्य मंदिर का निर्माण करवाया जाए।

ट्विटर पर ये ट्रेंड रॉफल गांधी नाम के यूजर के एक ट्वीट के बाद शुरु हुआ। रॉफल गांधी ट्विटर पर एक पैरोडी अकाउंट है, जो तमाम मुद्दों पर तीखे व्यंग के लिए जाना जाता है।

रॉफल गांधी ने ट्वीट कर लिखा- “रोहतक यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और हिंदू अध्यात्म के रिसर्चर बलवान दहिया ने हनुमानजी पर गहरा अध्ययन किया है। उनकी रिसर्च में सामने आया कि जब हनुमानजी संजीवनी लेकर लौट रहे थे तो उनकी गदा पर लगा एक मनका नीचे गिर गया था”।

ट्वीट में आगे लिखा, “हजारों साल के बाद नौवीं सदी में वो मनका कृपाराम नामक एक गरीब को मिला। इसके बाद उसकी किस्मत बदल गयी और वो लखपति हो गया। तब उस रहस्यमयी मनके की महिमा समझ आयी और अपनी पत्नी भामादेवी की सलाह पर कृपाराम ने हनुमान जी का भव्य मंदिर बनवाकर उस मनके को स्थापित कर दिया। इस मंदिर के आस-पास एक समृद्ध और खुशहाल शहर बस गया। जिसका नाम था नवोदय”।

रॉफल गांधी ने दावा करते हुए लिखा, “फिर 11वीं शताब्दी में नवोदय नगरी के राजा अजेयनाथ और एक मुस्लिम शासक टीपू खान के बीच भयंकर जंग हुई। इससे पहले कि टीपू नवोदय नगर को लूट पाता, इस नवोदय नगर की कुलदेवी महामाया ने पूरे शहर को पाताल में छुपा दिया।

प्रोफेसर दहिया की रिसर्च और मशहूर पुरातत्व विशेषज्ञ कगिशो आर्चर की रिपोर्ट कहती है कि जहाँ सोने की नवोदय नगरी थी, वहाँ आज नोएडा शहर आबाद है। मनका जड़ित भव्य मंदिर की लोकेशन नोएडा फ़िल्म सिटी में भूतल से लगभग 3000 मीटर नीचे बतायी गयी है”।

रॉफल गांधी के इस दावे के बाद सोशल मीडिया पर कई यूज़र्स नोएडा फिल्म सिटी की खुदाई कराने की मांग कर रहे हैं। पत्रकार रोहिणी सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा, “जिस हिंदू का ख़ून ना खौला, ख़ून नहीं वो पानी है/ फ़िल्म सिटी एक्स्कवेशन में जो काम ना आए, वो बेकार जवानी है #NoidaFilmCityExcavation.”

संजय हेगड़े ने ट्वीट किया, “क्‍या इसके लिए कोर्ट की कार्यवाही की जरूरत पड़ेगी या नहीं”। वहीं, टेलर डरडेन ने ट्वीट किया, “यह भारत की गरीबी मिटाने का एकमात्र समाधान है”।

ग़ौरतलब है कि रॉफल गांधी का ये ट्वीट उन टीवी चैनल्स पर तंज़ है जो अयोध्या मामले के ज़रिए देश में नफ़रत फैलाने का काम कर रहे हैं। दरअसल, बीते कल न्यूज़ चैनल ‘आज तक’ ने एक बेहद भड़काऊ ट्वीट किया था, जिसके चलते चैनल को ट्विटर पर जबरदस्त आलोचना झेलनी पड़ रही है। आजतक के इस ट्वीट में पोस्ट किए गए ग्राफिक्स में लिखा था – “जन्मभूमि हमारी, राम हमारे, मस्जिद वाले कहाँ से पधारे?”