उत्तर प्रदेश में बदमाशों के हौसले बुलंद है। योगी सरकार और यूपी पुलिस के सारे दावे फेल होते हुए नज़र आ रहें है। ताजा मामला प्रतापगढ़ का है, जहां विश्व हिन्दू परिषद (VHP) के तहसील अध्यक्ष और वकील ओम मिश्रा की गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना के बाद पुलिस मामले की जांच करने में जुट गई है, मगर दिनदहाड़े इस तरह की हत्या से अपराधियों का हौसले बुलंद हो गए है।

दरअसल प्रतापगढ़ के जेठवारा थाना क्षेत्र के सोनपुर गांव निवासी ओम मिश्रा कचहरी में वकालत करते थे। जब वो सोमवार सुबह कोर्ट के लिए निकले तो रास्ते में बाइक सवार बदमाशों ने उनकी गाड़ी को ओवरटेक किया।

इसके बाद बदमाशों ने सीने में तमंचा सटाकर गोली मार दी और फिर भाग निकले। खून से लथपथ अधिवक्ता को देख राहगीरों ने पुलिस को खबर दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और वकील को अस्पताल पहुँचाया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया बताया जा रहा है की वकील का साथी मौके से फरार है।

अब ऐसे में सवाल उठता है की जब वकील और विश्व हिन्दू परिषद के अध्यक्ष ही अगर सुरक्षित नहीं है, तो फिर आम आदमी का क्या हाल होगा। सीएम योगी भले ही अपराध मुक्त प्रदेश की बात करते हो। मगर आए दिन इस तरह की घटना को अंजाम दिया जा रहा है और यूपी पुलिस बदमाशों पर लगाम लगाने में लगातार नाकाम हो रही है।