• 10.1K
    Shares

पंजाब नेशनल बैंक से 13,000 करोड़ की धोखाधड़ी करने वाले भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की मोदी सरकार से नजदीकियों की परतें खुलती जा रही हैं।

अब नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली और वित्त मंत्रालय पर भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सनसनीखेज खुलासा किया है। सुब्रमण्यम स्वामी ने जो आरोप अरुण जेटली पर लगाए हैं वो बहुत गंभीर हैं।

स्वामी ने कहा है कि, “मोदी सरकार और प्रधानमंत्री कार्यालय ने नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को लेकर काफी मेहनत किया, लेकिन वित्त मंत्रालय की वजह से इसमें देरी हुई। यहाँ तक की उन्होंने सोने का बिस्किट भी लिया। अगर वित्त मंत्रालय सचेत रहता तो नीरव मोदी कभी देश छोड़कर  नहीं जा सकता था। हमें इसके लिए वित्त मंत्रालय में जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई करनी चाहिए।”

मोदी हैं तो मुमकिन है! 13000 करोड़ का घोटाला करने वाला ‘नीरव मोदी’ लंदन में बेख़ौफ़ घूम रहा है

सुब्रमण्यम स्वामी का बयान ऐसे समय आया है जब ईडी के अनुरोध अकरने पर लंदन पुलिस ने नीरव मोदी के गिरफ्तारी वारंट जारी किए हैं। बता दें कि लंदन में वेस्टमिस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत ने नीरव मोदी के खिलाफ प्रत्यार्पण वारंट जारी किया है, इसके बाद लगभग नीरव की गिरफ्तारी तय है।

अब नीरव मोदी के पास वारंट जारी होने के बाद दो ही विकल्प है या तो वह किसी पुलिस सरेंडर कर दे या फिर वारंट को तमिल कराने के लिए जिम्मेदार मेट्रोपोलिटन पुलिस के अधिकारी उसे गिरफ्तार करेंगे।

नीरव मोदी Vs नरेंद्र मोदी: दोनों ने देश को लूटा और ख़ुद को कानून से ऊपर समझाः राहुल गांधी

वैसे नीरव मोदी के भारत लाने की तैयारी लोकसभा चुनाव में फायदा लेने की भी हो सकती है। क्योंकि जिस तरह से पुलवामा हमले के बाद एयर स्ट्राइक का प्रधानमंत्री मोदी ने राजनीतिकरण किया उससे तो यही लगता है कि नीरव चुनाव में इस्तेमाल किया जाएगा।