स्वामी चिन्मयानंद पर जैसे जैसे शिकंजा कसता जा रहा है। वैसे वैसे विपक्षी नेताओं ने भी इस मामले पर तीखा हमला बोलना शुरू कर दिया है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बिना किसी का नाम लिए भगवा वस्त्र पहनकर सनातन धर्म को बदनाम करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि जो ऐसा कर रहें है उन्हें भगवान कभी माफ नहीं करेगा।

दिग्विजय सिंह ने एक कार्यक्रम में कहा कि भगवा वस्त्र पहनकर लोग चूरन बेच रहें है, भगवा वस्त्र पहनकर बलात्कार हो रहें है, मंदिरों में बलात्कार हो रहें है। क्या यही है हमारा धर्म? जो हमारे सनातन धर्म को बदनाम कर रहा है उसे भगवान भी माफ नहीं करेगा।

उन्होंने कहा कि सनातन धर्म विश्व का सबसे पुराना धर्म है। बाकि जितने भी धर्म हैं वो अलग-अलग विचार धारा के द्वारा उत्पन्न हुए हैं। लेकिन आज विश्व में अगर कोई सबसे प्राचीनतम धर्म है तो वो है सनातन धर्म। सनातन धर्म का कभी अंत नहीं हो सकता है।

लोग अपना परिवार छोड़कर साधु-संत बनते हैं, लेकिन आज भगवा पहनकर लोग चूर्ण बेच रहे हैं और बलात्कार कर रहे हैं। दिग्विजय सिंह ने कहा कि आज भगवा पहनकर मंदिरों में रेप किया जा रहा है। ऐसा करने वाले लोगों को ईश्वर कभी माफ नहीं करेगा।

कलतक जो चिन्मयानंद ‘बच्चियों’ से मसाज करवा रहा था वो आज जेल जाने के डर से ‘बीमार’ हो गया

खास बात ये रही कि दिग्विजय सिंह ने अपने भाषण की शुरुआत जय सिया राम के नारे से की। जिसपर उन्होंने ये भी कहा कि जय श्री राम का नारा कुछ राजनीतिक पार्टियों का है। लेकिन हमें जय सिया राम कहना चाहिए हम जय श्रीराम में सीता मां को क्यों भूल जाते हैं।

बता दें कि पिछले कई घटनाओं में ऐसे कई मामले सामने आए है जहां साधुओं पर बलात्कार के आरोप लगे है। जिनमें से ताजा मामला पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद का है जिनपर उनके लॉ कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा ने शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है। इस मामले पर अभी एसआईटी अपने जांच कर रही है।