• 12.1K
    Shares

बुलंदशहर के स्याना गांव में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की उग्र भीड़ द्वारा की गई हत्या के बाद सूबे की योगी सरकार जहां विपक्ष के निशाने पर है वहीं योगी कैबिनेट के अपने मंत्री भी इस हत्या को पूर्व नियोजित साज़िश बता रहे हैं।

यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने घटना की टाइमिंग पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि यह हिंसा उसी वक्त क्यों भड़की जब वहां मुस्लिमों का इज्‍तमा चल रहा था? उन्होंने कहा कि यह घटना पूर्व नियोजित थी। दंगा कराने के लिए पहले से योजना बनाई गई थी। दंगे के लिए लोगों को भड़काया गया।

इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या के बाद भी लाइट शो देख रहे थे सीएम योगी, पत्रकार ने कहा- बहुत हुआ अब एक्शन लो

राजभर ने इस घटना के लिए विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल और आरएसएस को जिम्मेदार ठहराया है। राजभर ने कहा कि यह यह सारे संगठन बीजेपी के लिए काम करते हैं। यह घटना को वोटों के लिए अंजाम दिया गया है। वोट के लिए बजरंग दल और वीएचपी लोगों की भावना भड़का रहे हैं।

राजभर ने कहा कि इस घटना में बीजेपी का नेता भी पकड़ा गया है। जिन तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई है, इसमें एक बीजेपी नेता भी है। इन लोगों ने जानबूझकर इज्तमा के दिन को हिंसा के लिए चुना ताकि बुलंदशहर की शांति को भंग किया जा सके।

CM योगी गाय-गाय करते हैं और गोरक्षों ने मेरे भाई की जान ले लीः इंस्पेक्टर सुबोध की बहन

बता दें कि बुलंदशहर की स्याना तहसील में सोमवार की सुबह कथित गोवंश हत्या के खिलाफ प्रदर्शन कर रही भीड़ की पुलिस से हिंसक भिड़ंत हो गई थी। इसमें भीड़ ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या कर दी थी और पुलिस चौकी में आग लगा दी थी। मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया जा चुका है।