• 614
    Shares

मुंबई में गुरुवार शाम छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसटी) स्टेशन के पास फुटओवर ब्रिज गिरने से मलबे में दबकर 3 महिलाओं समेत 6 लोगों की मौत हो गई जबकि 36 लोगों के घायल हो गए।

हादसे के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने मृतकों को परिजनों के लिए पांच-पांच लाख रुपये देने और घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता देने की घोषणा की है। उन्होंने इस घटना की उच्चस्तरीय जांच कराने का भी आदेश दिया है।

इस हादसे पर आम आदमी पार्टी के बागी नेता और कवि कुमार विश्वास ने दुख जताते हुए महाराष्ट्र की देवेंद्र फड़नवीस सरकार पर हमला बोला है।

BJP प्रवक्ता बोलीं- मुंबई ब्रिज हादसे के लिए सरकार नहीं ब्रिज पर चलने वाले जिम्मेदार हैं

उन्होंने ट्विटर के ज़रिए कहा, ‘फिर एक बार “Sprit of Mumbaikars” जैसे भावुक जुमले के नीचे, भ्रष्टाचार की भेंट चढ़े निरपराध नागरिकों की नृशंस हत्या को भुला दिया जाएगा, फिर एक बार “जबाबदेही” को “कड़ी-जाँच” जैसै सरकारी पोस्टर के नीचे दबा दिया जाएगा! फिर एक बार बेबस ख़ून चुनाव के काम आएगा’।

बताया जा रहा है कि यह हादसा ब्रिज पर ओवरलोडिंग की वजह से हुआ। बीएमसी आपदा नियंत्रण ने कहा,  “यह घटना गुरुवार शाम 7.35 पर तब घटी, जब पुल पर जरूरत से ज्यादा लोगों का वजन बढ़ गया”। बता दें कि पिछले 18 महीनों में शहर में फुटओवर ब्रिज गिरने गिरने की यह तीसरी घटना है।

ब्रिज हादसे के लिए जनता जिम्मेदार : BJP नेता, संजय बोले- ऐसे लोगों को पार्टी से निकाले भाजपा

वहीं इस हादसे के बाद मुंबई पुलिस ने बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) और भारतीय रेलवे के अधिकारियों के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। बता दें कि बीएमसी ने तीन दशक पुराने इस ब्रिज का छह महीने पहले ही निरीक्षण किया था, जिसमें ब्रिज को इस्तेमाल के लिए सेफ़ बताया गया था।