• 39.7K
    Shares

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुई हिंसा पर योगी सरकार की जमकर आलोचना हो रही है। इस मामले पर पहले यूपी पुलिस डीजीपी ओपी सिंह का कहना है कि बुलंदशहर हिंसा एक बड़ा षडयंत्र था। वहां जो हुआ, वह सिर्फ लॉ ऐंड ऑर्डर का मुद्दा नहीं था, बल्कि साजिश थी।

उन्होंने सवाल उठाये कि वहां पर गायें कैसे पहुंचीं? उन्हें कौन और क्यों लाया था? किन परिस्थितियों में वे पाई गईं? कई सारे सवाल इस घटना को लेकर उठ रहे हैं।

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने इन सवालों पर योगी सरकार को घेरा और लिखा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हिन्दू, शहीद होने वाले जाँबाज़ पुलिस इंस्पेक्टर हिन्दू और ग़ुस्से के साथ कहना पड़ेगा की हत्या करने वाला भी हिन्दू।

बुलंदशहर हिंसा में नया खुलासा: IG क्राइम ने कहा- 2 दिन पुराने थे गोवंश, संजय सिंह बोले- योगी बताए गाय किसने काटी?

अब बताओ हिन्दू को ख़तरा कौनो से है। धर्म से हिन्दू को ख़तरा नहीं है। कट्टर हिन्दू संगठन अपनी राजनीति के लिए हिन्दू की हत्या रहे हैं। राम राम

बता दें कि बुलंदशहर की स्याना तहसील में सोमवार की सुबह कथित गोवंश हत्या के खिलाफ प्रदर्शन कर रही भीड़ की पुलिस से हिंसक भिड़ंत हो गई थी।

बुलंदशहर में पुलिस पर पथराव करने वाले सुमित के परिवार को 10 लाख क्यों दिया गया, क्या सरकार उसे हीरो मानती है?

इसमें भीड़ ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या कर दी थी और पुलिस चौकी में आग लगा दी थी। मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here