• 953
    Shares

कांग्रेस के ‘चौकीदार चोर है’ के जवाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मैं भी चौकीदार’ कैंपेन शुरू किया है। उन्होंने इस कैंपेन के तहत अपने ट्विटर हैंडल का नाम बदलते हुए चौकीदार नरेंद्र मोदी कर लिया है। इससे पहले यह नाम नरेंद्र मोदी था।

पीएम मोदी ने अपने इस कैंपेन की शुरुआत करते हुए ट्वीट कर कहा, “आपका चौकीदार दृढ़ होकर राष्ट्र की सेवा कर रहा है। लेकिन, मैं अकेला नहीं हूं। भ्रष्टाचार, गंदगी, सामाजिक बुराइयों से लड़ने वाला हर कोई चौकीदार है। भारत की प्रगति के लिए कड़ी मेहनत करने वाला हर कोई चौकीदार है। आज हर भारतीय कह रहा है- #MainBhiChowkidar”।

पीएम मोदी के बाद बीजेपी के बड़े नेताओं ने भी ट्विटर पर अपने नाम के आगे चौकीदार लगाना शुरु कर दिया है। बीजेपी अध्यक्ष अमित अमित साहित लगभग सभी केंद्रीय मंत्रियों ने पीएम मोदी की इस मुहिम का समर्थन करते हुए अपने ट्विटर हैंडल के नाम में चौकीदार जोड़ लिया है।

योगी का गाय प्रेम निकला फर्जी, नोएडा की गोशाला में बिना चारे-इलाज के 200 गायों की हुई मौत

इस फेहरिस्त में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नाम भी है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल का नाम बदलते हुए चौकीदार योगी आदित्यनाथ कर लिया है। इससे पहले उनके ट्विटर हैंडल का नाम योगी आदित्यनाथ था।

सीएम योगी ने अपने नाम के आगे चौकीदार लगाए जाने के बाद कहा कि उन्हें इस पर गर्व है। उन्होंने ट्वीटर हैंडिल से कविता शेयर की, “उत्तर प्रदेश है संकल्पित और मैं तैयार हूँ, जो प्रेरणा से है बही, विकास की बयार हूँ, हाँ, मैं भी चौकीदार हूँ…जारी रखें विकास का सफर मोदी जी के साथ”।

मोदी के ‘मैं भी चौकीदार’ पर प्रियंका गांधी का तंज- गरीबों के नहीं अमीरों के होते है ‘चौकीदार’

सीएम योगी भले ही आज अपने नाम के आगे चौकीदार लगाने में गर्व महसूस कर रहे हों, लेकिन एक साल पहले तक वह चौकीदार शब्द को उर्दू का बताते हुए इसका विरोध किया करते थे। सीएम योगी ने 5 जनवरी, 2018 को वाराणसी दौरे के दौरान कहा था कि चौकीदार उर्दू शब्द है, जिसका मतलब होता है वॉचमैन।

वहीं प्रहरी का मतलब है रक्षा करने वाला। इसलिए चौकीदार की जगह अब हिंदी शब्द प्रहारी का इस्तेमाल किया जाएगा। चौकीदारों को प्रहारी के नाम से जाना जाए, इसके लिए सीएम योगी ने पुलिस विनियमन में संशोधन का समर्थन भी किया था।