• 25.9K
    Shares

देश के प्रमुख उद्योगपति और विप्रो (Wipro) के मालिक अजीम प्रेमजी ने विप्रो की 34 फीसदी हिस्सेदारी परोपकार कार्यों के लिए दान कर दी है। यह शेयर 52,750 करोड़ के बराबर है। अबतक प्रेमजी कुल विप्रो के 67 फीसदी हिस्सेदारी दान कर चुके हैं। और 67 फीसदी के शेयर की कीमत 1.45 लाख करोड़ रुपए है।

देश में अजीम प्रेमजी से बड़े और भी उद्योगपति है। लेकिन अभी तक किसी ने भी अपने कंपनी शेयर इतने बड़े पैमाने के लिए दान नहीं की है। देश के सबसे अमीर आदमी मुकेश अंबानी के बारे में अक्सर सुनने को मिलता है कि उनकी संपत्ति में इतने प्रतिशत का इजाफा हुआ। मगर परोपकार कार्यों के लिए इतनी बड़ी रकम अंबानी ने कभी भी नही दी है।

हालाँकि CSR के जरिए सभी उद्योगपतियों के लिए कुछ हिस्सा परोपकार के कार्यों के लिए दान करना होता है। उद्योगपति दान करते भी है लेकिन भारत में अजीम प्रेमजी के आस पास भी कोई नही है। शास्त्रों और धार्मिक किताबों में कहा गया है की सभी लोगों को परोपकार के काम करना चाहिए। ये पुण्य का काम है।

वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने अजीम प्रेमजी की तारीफ करते हुए उन्हें इस काम ले किए सलाम किया है. रवीश ने अपने फेसबुक पर लिखा है, “अज़ीम प्रेमजी के लिए शुक्रिया के दो शब्द तो बनते हैं। एक लाख करोड़ से अधिक की रकम दान कर दी। सलाम अज़ीम साहब। दिल का दरियादिल होना अज़ीम हो जाना है। इतने पैसे का मालिक होकर यह शख़्स सादा सादा है। किरण मज़ूमदार शॉ ने अपनी कमाई का 75 फीसदी हिस्सा दान में दे देने का निर्णय लिया है।“

अजीम प्रेमजी फाउंडेशन ने अपने बयान में कहा है कि, “अजीम प्रेमजी ने अपनी निजी संपत्तियों का अधिक से अधिक त्याग कर धर्मार्थ कार्यों के लिए उसे दान देकर परोपकार के प्रति अपनी प्रतिबद्दाता बढाई है। जिससे अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के परोपकार कार्यों को सहयोग मिलेगा।

बता दें कि अजीम प्रेमजी फाउंडेशन कई राज्यों में सरकारों के साथ मिलकर कई क्षेत्रों में काम करती है। फाउंडेशन कर्नाटक, उत्तराखंड, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, मध्य प्रदेश और उत्तर पूर्वी राज्यों में काम करती है। साथ ही फाउंडेशन शिक्षा के क्षेत्र में अहम योगदान देता है।