• 1.3K
    Shares

हरियाणा के गुरुग्राम में होली के मौके पर गुंडों की भीड़ ने एक मुस्लिम परिवार को निशाना बनाया। इस दिल दहला देने वाली घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। यहाँ परिवार के बच्चों घर के बाहर क्रिकेट खेल रहे थे।

बच्चों का क्रिकेट खेलना गुंडों को इतना नागवार गुजरा कि उन्होंने शराब के नशे में धुत्त होकर घर में घुसकर परिवार पर लाठी-डंडों, लोहे की रॉड और तलवारों से हमला कर दिया।

गुंडे परिवार के युवक को तब तक पीटते रहे जब तक वह बेहोश नहीं हो गया। इस वीभत्स घटना की चारों तरफ निंदा की जा रही है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट करके इस घटना को देश के भाईचारे को बिगाड़ने वाली घटना करार दिया है।

उन्होंने लिखा है कि, “गुरुग्राम में मोहम्मद शाहिद और उनके परिवार पर जो गुजरी वो काल्पन से परे है। देश के भाईचारे को बिगाड़ने वाले नेता ये बात नहीं समझ रहे हैं कि नफ़रत ऐसा जहर है जो सब को खत्म कर देगा।”

बता दें कि मामला गुरुग्राम के भोंडसी के भूप शिंह नगर इलाके का है। जहाँ 30-35 गुंडों में परिवार पर हमला किया। परिवार की महिलाएं और लड़कियां 2 घंटे तक गहर की छत पर कैद रहीं।

मुस्लिम परिवार को 20-25 गुंडों ने घर में घुसकर बेरहमी से पीटा, चिल्लाते रहे चले जाओ ‘पाकिस्तान’

वहीं इस पूरे घटनाक्रम में गुरुग्राम पुलिस की घोर लापरवाही सामने आ रही है। घटना के 48 घंटे बाद भी पुलिस एक भी गुंडे को पकड़ नहीं पाई है। जबकि, घटना के बाद पीड़ित परिवार को घायल होने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया। मामले में फंसता देख गुंडे भी अस्पताल में भर्ती हो गए जिससे की पीड़ित परिवार पर ही दबाव बनाया जा सके।

पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जबकि वीडियो में गुंडों के चेहरे साफ़ दिखाई दे रहे हैं। सभी गुंडे पीड़ित परिवार के घर के आस पास के ही बताये जा रहे हैं। ऐसे में फिर पुलिस के हाथ अब तक क्यों खाली हैं?