कर्नाटक में कांग्रेस अपने एक बागी विधायक एमटीबी नागराज को मनाने में कामयाब हो गई है। नागराज ने पार्टी नेता डीके शिवकुमार से मुलाकात के बाद शनिवार को इस्तीफा वापस लेने के संकेत दिए हैं।

दरअसल, डीके शिवकुमार एमटीबी नागराज को मनाने के लिए उनके घर पहुंचे थे और उन्होंने नागराज से अपने फैसले पर दोबारा विचार करने के लिए कहा था। बता दें कि नागराज और सुधाकर ने बुधवार (10 जुलाई) को इस्तीफा दिया था। इन दोनों विधायकों के अलावा 14 और विधायक अपना इस्तीफा सौंप चुके हैं। हालांकि, किसी भी विधायक का इस्तीफा स्वीकार नहीं हुआ।

कांग्रेस के विधायकों को BJP में शामिल करने पर पर्रिकर के बेटे बोले- भाजपा में विश्वास ख़त्म हो गया है

नागराज ने शिवकुमार से मुलाकात के बाद कहा कि उस वक्त स्थिति ऐसी थी कि हमने इस्तीफा सौंपा। लेकिन अब शिवकुमार और अन्य नेताओं ने मुझसे इस्तीफा वापस लेने के लिए कहा है। मैं इस मामले में के सुधाकर राव से बात करूंगा। इसके बाद देखूंगा कि क्या करना है। आख़िर मैंने कई दशक कांग्रेस में बिताए हैं।

इस मौके पर खुशी जताते हुए डीके शिवकुमार ने कहा, ‘हमें साथ जीना और मरना चाहिए क्योंकि हमने पार्टी के लिए 40 सालों तक काम किया। हर परिवार में उतार चढ़ाव आते हैं। हमें सब भूल जाना चाहिए और आगे बढ़ना चाहिए। खुश हूं कि एमटीबी नागराज ने हमें आश्वासन दिया है कि वह हमारे साथ रहेंगे।’