उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक ढाई साल की बच्ची 31 मई को लापता हो गयी थी और 2 जून को उसका शव बरामद हुआ था. तमाम अटकलों के बीच आई पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट्स से ये सामने आया है कि आरोपियों ने लड़की के साथ बलात्कार नहीं किया था. हालाँकि अभी इस मामले में जाँच जारी है और उसके लिए स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (SIT) का भी गठन किया गया है.

बच्ची की माँ ने सरकार से मदद की मांग की है. उन्होनें कहा, “मोदी सरकार और योगी सरकार से निवेदन करती हूँ कि वो आरोपियों को कड़ी सजा दें. हम चाहते हैं कि उन्हें मौत की सजा दी जाए. वरना तो वो जब 7 साल बाद जेल से बाहर आएंगे तो उनके हौंसले और बढ़े हुए होंगे.”

आपको बता दें कि मासूम बच्ची अलीगढ़ की रहने वाली थीं. वो मात्र 2 साल 6 महीने की थीं. इलज़ाम है कि उनके पिता के ऊपर 10000 का कर्ज़ा था जिसे ना चुका पाने की वजह से आरोपियों, ज़ाहिद और असलम, ने उसकी हत्या कर दी.  बच्ची 31 मई को अपने घर से गायब हुई थीं और उनका शव 2 जून को मिला था.

अलीगढ़ पुलिस ने ट्वीट कर बताया है कि ट्विंकल के साथ बलात्कार नहीं हुआ था, जैसा की मीडिया में बताया जा रहा था. फिलहाल इस मामले में जाँच जारी है और ये मामला फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट को भेजा जाएगा.

फोटो साभार- ANI