• 153
    Shares

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह ज़िला नालंदा में पत्रकार के बेटे की हत्या का सनसनीखेज़ मामला सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहां कुछ अज्ञात बदमाशों ने पत्रकार के बेटे की आंख फोड़कर उसे मौत के घाट उतार दिया। इस घटना ने एक बार फिर नीतीश कुमार के शुसासन पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

नालंदा के एसपी निलेश कुमार ने बताया कि एक राष्ट्रीय समाचार पत्र के नालंदा कार्यालय प्रभारी आशुतोष कुमार का 15 वर्षीय बेटा अश्विनी कुमार उर्फ चुन्नू रविवार की शाम अपने पैतृक गांव हसनपुर में घर से बाहर खेलने निकला था।

देर शाम जब वह घर नहीं लौटा, तब उसके घर वालों ने उसकी तलाश शुरू की। खोज करने पर चुन्नू का शव गांव के ही एक तालाब के किनारे से बरामद किया गया। शव को जब बरामद किया गया तो मृतक के आंख के पास से खून बह रहा था।

निलेश कुमार ने बताया कि पूरे मामले की जांच शुरू कर दी गई है। हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है। शव की हालत को देखते हुए यह हत्या का मामला लगता है। आशंका है कि उसे सुनियोजित ढंग से मारा गया है।

बताया जा रहा है कि पत्रकार का एकलौता बेटा चुन्नू एक महीने पहले ही अपने पैतृक गांव हसनपुर आया था। वह पहले परिवार के साथ हरनौत में रहता था। वह अपनी छोटी बहन की शादी के लिए गांव आया था।

जहां कुछ दिनों पहले ही उसका गांव के कुछ लोगों से मामूली कहासुनी पर विवाद हो गया था। हत्या के बाद गांव के कुछ लोग संदेह के घेरे में आ गए हैं। घटना के बाद शादी के घर में मातम पसर गया है।